मंदिरों के पुर्नउत्थान के लिए ममतामयी बनी ममता, जंगलमहल में कोरोना के बढ़ते मामले पर जताई चिंता

303

खड़गपुर। झाड़ग्राम में प्रशासनिक बैठक कर राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने झाड़ग्राम जिले में बढ़ रहे कोरोना मामले पर चिंता जाहिर की व कहा कि मुंबई व चेन्नई की ओर से आने वाले ट्रकों की वजह से जिले में कोरोना के केस बढ़े है। ट्रकों से आ रहे सामानों के साथ साथ कोरोना के जीवाणु भी उसमें आ गए व सामान बाजारों में फैलने की वजह से लोग भी संक्रमित हुए है। उन्होंने झाड़ग्राम में उनकी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए कहा कि अगर किसी भी उन्होंने विपक्षी दलों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि चुनाव के पहले कुछ लोग झाड़ग्राम को अशांत करने की कोशिश कर रहे है लेकिन प्रशासन उनके मंसूबो को कामयाब नही होने देगी। आदिवासीयों के शिक्षा दीक्षा और पोषण पर विशेष ध्यान देने कि बात कही गई। कनकदुर्गा मंदिर व मुम्बई रोड़ स्थित गुप्तमनी मंदिर तथा नयाग्राम के रामेश्वर मंदिर के पुर्नउत्थान के लिए कुल तीन करोड़ 75 लाख रु की धनराशि दिए जाने की घोषणा की गई। इसके अलावा
राज्य में बनने वाले आदिवासी विश्वविद्यालय का नाम साधु रामचंद मुर्मु के नाम पर रखने की घोषणा की गई।ममता ने कनक दुर्ग मंदिर में पूजा भी की। दुर्गापूजा कमेटियों को अनुदान व मंदिरों के पुनर्निर्माण के मुद्दे पर भाजपा का कहना है कि चुनाव के वक्त हिंदु वोटरों को लुभान का प्रयास कर रही है मुख्यमंत्री।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com