भारती घोष ने ममता के चार राजधानी वाली मांग का किया उपहास, राज्य सरकार की कि आलोचना

297

खड़गपुर। पूर्व मेदिनीपुर जिले के भगवानपुर थाना  के  द्वारीमारा बस स्टैंड इलाके में आयोजित भाजपा की सभा को संबोधित करते हुए पूर्व आईपीएस व भाजपा नेत्री भारती घोष ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तुलना इतिहास में दर्ज पागल नेता मोहम्मद बिन तुगलक से करती हुई कहा कि जिस तरह तुगलक ने राजधानी दिल्ली से हटाकर दौलताबाद कर दिया था व फिर बाद में गलती का एहसास होने पर वापस राजधानी दिल्ली किया गया। तुगलक के ऐसे ही कई गलत फैसलों की वजह से उसके राज्य की जनता परेशान रहती थी उसी तरह बंगाल की जनता ममता बनर्जी के फैसलों से भी परेशान है। ममता बनर्जी कहती है कि देश में एक नही बल्कि चार राजधानी होनी चाहिए ऐसे में देश में प्रशासनिक कार्यों में बाधा आएगी व अराजकता का माहौल बढेगा। ममता बनर्जी ऐसे ही बेढंग फैसलों से प्रधानमंत्री बनना चाहती है। इसके अलावा 23 जनवरी को विक्टोरिया वाली घटना पर एक पुराने किस्से की बात करते हुए भारती घोष ने कहा कि सालों पहले जब ममता बनर्जी रेलमंत्री थी उस समय उन्होंने सीपीएम नेता हन्नान मोल्ला के साथ मंच साझा किया था उस समय एक सभा के दौरान जनता सीपीएम नेता मोल्ला का नाम लेकर याक थू कहकर उपहास उड़ा रही थी लेकिन तब मंच पर मौजूद ममता बनर्जी ने एक शब्द भी नही कहा था वहीं अब विक्टोरिया में जब लोग जय श्रीराम का नारा लगा रहे थे जोकि आराध्य है तो ममता बनर्जी को अपना बेईज्जती क्यों लग रहा था। इसके अलावा उन्होंने राज्य सरकार की योजनाओं पर बात करते हुए कहा कि नर्सिंग होम व अस्पतालों में जाने पर स्वास्थ्य साथी कार्ड स्वीकार नही किया जाता है। गरीब जनता को उधार के पैसे लेकर ही इलाज करवाना पड़ता है। उन्होंने कहा कि राज्य में गरीबों को दिया जाने वाला राशन में चोरी करना कम पड़ गया था क्या जो अब राज्य सरकार दुआरे‌ सरकार नाम से योजना बनाकर लोगों के दुआर पर जाकर भी उन्हें लूटना चाहती है।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com