Advertisement
Home Forest नयाग्राम के जंगल में मिले हिरण का पकाया मांस, सींग भी ...

नयाग्राम के जंगल में मिले हिरण का पकाया मांस, सींग भी जब्त

626
Advertisement
Advertisement
Advertisement

मनोज कुमार साह,   झाड़ग्राम जिले के नयाग्राम थाना क्षेत्र में जंगल से घिरे एक गांव के घर पर छापा मारकर पके हुए हिरण के मांस को जब्त किया गया हिरण की खाल और सींग बरामद किए गए। पूरी घटना से वन विभाग स्तब्ध है । लेकिन शुरू में ऐसा लगता वन अधिकारी के अनुसार सूचना मिलने के बाद नयाग्राम वन रेंज के कुर्कीबनी गांव में छापा मारा गया जहां एक घर  पके हुए हिरण का मांस, कच्चा मांस, चमड़े और कई  सींग बरामद किए। शुरू में, वन विभाग का अनुमान है कि मारे गए हिरणों में से दो वयस्क व अन्य तीन युवा थे।

m

रेंज अधिकारी शिवराम रक्षिता ने ऑपरेशन का नेतृत्व किया व हिरन के कुरचीबनी गांव के पारु मुर्मू नाम के एक व्यक्ति के घर में पाए गए। वन विभाग द्वारा प्राथमिकी दर्ज की गई पुलिस जांच कर कानूनी कार्रवाई करेगी। वन विभाग के अनुसार, जिस तरह से नयाग्राम और आस-पास के वन क्षेत्रों में हिरणों की संख्या बढ़ रही है, वहां कुछ  लोगों के हिरणों के शिकार की खबरें थीं लेकिन यह नहीं पता था कि इस शिकार में कौन शामिल था। वन अधिकारियों का मानना ​​है कि स्रोत शुक्रवार को पाया गया था। हिरणों को जाल से या खाने में जहर मिलाकर मारने के बारे में सोचा जाता है। क्या यह सिर्फ व्यक्तिगत स्तर पर मांस का शिकार है या इसके पीछे कोई गैंग  है जिसका शिकार हिरण की खाल, सींग आदि के कारण किया जा रहा है ?  हिरण के मांस के लिए तस्करी का बाजार नयाग्राम और आसपास के इलाकों में सक्रिय है। कुछ लोग जंगल में कुछ लोगों को हिरण का मांस उपलब्ध कराने के लिए मोटी रकम देते हैं।  वन विभाग के अनुसार, हिरण का शिकार एक गंभीर दंडनीय अपराध है और वन कानून के अनुसार, न केवल शिकार करना बल्कि हिरण की खाल, सींग आदि का मांस की तस्करी करना, बेचना और खाना भी उतना ही आपराधिक है। उस मामले में, जो लोग हिरण का मांस खरीदते थे, उन्हें भी खोजा जा रहा है। घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है। सवाल यह है कि नयाग्राम जंगल में हिरण अब सुरक्षित है या नही ?

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com