नई खोली केवी-3 होगा शहर का सर्वोत्तम केवी, होगा अत्याधुनिक लैब, लगेगा रैम, नए शैक्षणिक वर्ष से शुरु हो सकती है नए भवन में पढ़ाई

199
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रघुनाथ प्रसाद  साहू / 9434243363

खड़गपुर, नई खोली केवी-3 होगा शहर का सर्वोत्तम केवी यह कहना है आईआईटी केंद्रीय विद्यालय के प्राचार्य संतोष कुमार बल का ज्ञात हो कि संतोष कुमार बल खड़गपुर, कलाईकुंडा, शालबनी व हल्दिया सहित कुल आठ विद्यालयों के को- आर्डिनेटर है। संतोष कुमार बल ने गुरूवार को आईआईटी केवी में एक भारत श्रेष्ठ भारत एवं कला उत्सव कार्यक्रम के दौरान kgpnews.in से खास बातचीत करते हुए कहा कि लगभग 24 करोड़ की लागत से नई खोली केवी-3 में अत्याधुनिक सुविधाएं होगी साइंस व अन्य विषयों के लिए लैब के अलावा आडिटोरियम व बच्चों के लिए रैम बनेगा। उन्होंने उम्मीद जताया कि नए शैक्षणिक वर्ष से नए भवन में पढ़ाई शुरु हो सकती है। ज्ञात हो कि उक्त स्कुल साउथ ईस्टर्न रेलवे मिक्सड हाई स्कुल नाम से चलती थी जिसमें पहले बंगाल बोर्ड के कोर्स चलते थे पर बीते कई वर्षों से इसे केवी कर दिया गया है व स्कुल का नया भवन बन रहा है। नए भवन के लिए तत्कालीन सांसद व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रीयो ने आधारशिला रखी थी जिसका निर्माण कार्य अंतिम चरण पर है बीते माह मेदिनीपुर के सांसद दिलीप घोष ने भी स्कुल का दौरा कर निर्माणाधीन नए भवन का जायजा लिया था।

प्राचार्य बल ने नए शिक्षा पालिसी पर बात करते हुए कहा कि केवी सिस्टम पूरी तरह से केंद्र सरकार की नई शिक्षा नीति को अपना रही है उन्होने बताया कि नई शिक्षा नीति में सभी कक्षाओं के लिए लक्ष्य निर्धारित कर दिए गए हैं अगर बच्चे प्रथम कक्षा में है तो उसे गणित, या भाषा में क्या क्या आना चाहिए। उन्होने आईआईटी केवी के बारे में कहा कि स्कुल जी प्लस 3 है व आईआईटी निदेशक प्रो वी के तिवारी के सहयोग से स्कुल में बच्चों के लिए लिफ्ट लगा दिए हैं उन्होने कहा कि देशभर में किसी केवी में लिफ्ट की सुविधा है उसे इसकी जानकरी नहीं है हो सकता है कि यह देश का प्रथम केवी हो जहां लिफ्ट की सुविधा है। उन्होने कहा कि कार्यक्रम के लिए मंच बनाने सहित अन्य आधारभूत संरचना करने में आईआईटी प्रबंधन स्कुल को सहयोग दे रहे हैं।

यह पूछे जाने पर कि कई केवी में शिक्षकों की कमी है प्राचार्य बल ने कहा कि शिक्षकों की नियुक्ति में हम केवी के नियमों का पालन करते हैं नियुक्ति रीजनल स्तर पर की जाती है वह हर महीने हमलोग शिक्षकों की नियुक्ति से सम्बन्धित रिक्विजिशन भेजते रहते हैं उन्होंने कहा कि शिक्षकों की कमी के कारण बच्चों की पढ़ाई बाधित नहीं हो रही है व कॉन्ट्रैक्चुल शिक्षकों का सहयोग लिया जा रहा है शिक्षक फिलहाल पर्याप्त मात्रा में है।

प्राचार्य  एस के बल ने बताया कि बंगाल में दसवीं बोर्ड में प्रथम व द्वितीय आईआईटी के वी के विद्यार्थी प्रथम शिखा झा व द्वीतिय मिक्सा सिंह रही। जबकि चतुर्थ स्थान में भी आईआईटी केवी के दो बच्चे हैं। उन्होने बताया कि इस साल नीट में आईआईटी केवी से 1 व केवी -2 रेल से एक बच्चे ने क्वालिफाई किया है।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com