आईआईटी खड़गपुर के पूर्व कर्मी के अंतिम संस्कार की बाट जोह रहे परिजन, बीते पांच दिनों से चांदमारी के चक्कर लगा रहे टुरीपाड़ा के रहने वाले परिजन, कोविड मृतक वृद्ध की अविलंब संस्कार की मांग को लेकर भाजपा ने सौंपा ज्ञापन

710
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

खड़गपुर। आईआईटी खड़गपुर के पूर्व कर्मी के अंतिम संस्कार की बाट जोह रहे हैं परिजन। बीते पांच दिनों से चांदमारी के चक्कर लगा रहे टुरीपाड़ा के रहने वाले परिजन चूंकि कोविड से हुई है वृद्ध की मौत इसलिए सरकारी विधि से अंतिम संस्कार होना है इधर भाजपा की ओर से अविलंब संस्कार की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञात हो कि टुरीपाड़ा निवासी व आईआईटी के पूर्व कर्मी बी दलईया की 22 तारिख की देर रात लगभग पौने दो बजे उसके आवास में मौत हो गई 23 तारिख की सुबह यानि सप्तमी के दिन शव को चांदमारी लाया गया चूंकि शव कोरोना पाजिटिव पाया गया था

 

इसलिए शव को सरकारी विधि से अंतिम संस्कार करना था पर परिजनों का कहना है कि बीते पांच दिनों से अस्पताल का चक्कर लगा रहे हैं लेकिन कब मृतक की अंतिम संस्कार होगा यह पता नहीं परिजन का कहना है कि प्रशासन व अस्पताल प्रबंधन अंतिम संस्कार ना होने के लिए जिम्मेदार बता रहे थे परिजन को उम्मीद है कि मंगलवार को अंतिम संस्कार होने पर वे लोग धार्मिक कर्मकांड कर पाएंगे। मृतक के परिजन राजा राव ने बताया कि बीते दिनों दलईया की तबियत बिगड़ने पर उसे डीवीसी स्थित एक निजी नर्सिंग होम में शूगर व यूरिन टेस्ट कराया गया जहां निजी नर्सिंग होम ने चांदमारी में कोविड टेस्ट की सलाह दी तो दलईया को बीते 14 अक्टूबर को चांदमारी लाया गया जहां कोविड जांच के बाद 16 को कोविड पाजिटिव पाए जाने की पुष्टि कर दी गई पर वृद्ध जनित रोग व रोगी की तबियत ज्यादा खराब होने से परिजनों ने अस्पातल के बजाय घर में ही इलाज कराए लेकिन रोगी की हालत 22 को ज्यादा बिगड़ी व उसे सांस लेने में तकलीफ हुई तो चांदमारी लाया गया जहां से उसे शाम में शालबनी कोविड अस्पातल ले जाया गया जहां भर्ती होने के बाद परिजन वापस रोगी को ले आए घरवालों का कहना है कि अस्पताल के एंबुलेंस से रोगी को लाया गया व 22 की देर रात लगभग डेढ़ बजे घर पहुंचे व जैसे ही आक्सीजन मिलना रोगी को बंद हुआ दस मिनट में ही उसने दम तोड़ दिया अगले दिन सुबह रोगी को चांदमारी के मॉर्ग में पहुंचा दिया गया लेकिन कोविड पाजिटिव होने के कारण सरकारी विधि से अंतिम संस्कार होने की बात कही जिसके लिए प्रतिदिन परिजन चांदमारी आते हैं व घंटो इंतजार के बाद घर लौट जाते हैं परिजनों को पता नहीं आखिर कब तक अंतिम संस्कार होगा।

खड़गपुर महकमा अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि टुरीपाड़ा के मृतक के अंतिम संस्कार को लेकर अस्पातल की ओर से औपचारिकता पूरी कर मामले को लेकर प्रशासन को अवगत करा दिया गया है। इधर भाजपा के मध्य मंडल की ओर से सुपरिटेंडेंट कृष्णेंदु मुखर्जी को मंगलवार कोज्ञापन सौंपा गया भाजपा नेता श्रीराव का कहना है कि मृतक का अविलंब अंतिम संस्कार होना चाहिए ताकि परिजन अन्य धार्मिक क्रियाकलाप कर सकें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com