खड़गपुर-मेदिनीपुर को जोड़ने वाली एकमात्र सड़क भी रहेगी बंद, गुरुवार रात से लगातार 96 घंटे मोहनपुर ब्रिज में ठप रहेगी यातायात, सिर्फ एंबुलेंस को दी गई छूट, ट्रेन ही बनेगा सहारा

362
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

 

बीते कई माह से पश्चिम मेदिनीपुर जिले के मेदिनीपुर टाउन व रेलनगरी खड़गपुर के बीच राजमार्ग – 60 के कंसावती नदी पर बीरेंद्र सेतु की जीर्णोद्धार कार्य जारी है जो कि अब समापन की ओर है

और इसीलिये   परिवहन विभाग द्वारा ” भार वहन क्षमता ” का परीक्षण किया जाना है .

 

इसी वजह से यातायात पूरी तरह से बंद रख कर परीक्षण कार्य सम्पन्न कराने की अपील संबंधित दफ्तर द्वारा की है . यह अपील जिला पुलिस एवं जिला प्रशासन से की गई है . प्रशासन की अनुमति से 17अगस्त रात 11 बजे से 21 अगस्त रात 11 बजे तक यातायात बंद रख कर भार वहन क्षमता का परीक्षण करना तय हुआ है इसमें एम्बुलेंस को छोड़कर  अन्य सारे यातायात के साधनों पर रोक रहेगी .

इस संबंध में मेदिनीपुर जिलाधिकारी एवं मेदिनीपुर पुलिस सुपरिटेंडेंट  की ओर से यातायार बंद रखे जाने की विज्ञप्ति जारी कर निर्देशिका प्रकाशित कर दी गई है जिसमें यातायात पर प्रतिबंध संबंधित सारे आवश्यक निर्देश दिए गए हैं साथ ही कहा गया है मेदिनीपुर से कोलकता जाने के लिए मेदिनीपुर शहर के धर्मा , केशपुर , लंकागढ , राजनगर , बकूलतला , खुकुडदह से मेचोग्राम होकर राजमार्ग पकड़ना होगा साथ ही लौटने के लिए भी उसी रास्ते का अनुसरण करना होगा .

इस वजह से मेदिनीपुर , खड़गपुर , चंद्रकोणारोड व सालवनी समेत अनेकों स्थान पर विशेष ट्राफिक नियंत्रण की व्यवस्था की गई है . जाहिर है  वैकल्पिक मार्ग काफी दूर होने के कारण खड़गपुर-आद्रा सेक्शन में  रेल ट्रैफिक में बढ़ोतरी होगी.

पश्चिम मेदिनीपुर जिले के जिला शासक खुर्शीद अली कादरी व एसपाी धृतिमान सरकार ने पत्रकार सम्मेलन आयोजित कर कहा कि पहले जारी किए गए आदेश में संशोधन किया गया है व  एम्बुलेंस को छूट देने का निर्णय किया गया है एसपी ने बताया कि शुक्रवार व शनिवार को एंबुलेंस को छोड़कर सारे वाहन ठप रहेंगे  जबकि परिस्थिति को देखते हुए शनिवार से  पैदल चलने वाले वह बाइक को लेकर लेकर निर्णय बाद में किया जाएगा। नदी में चलने वाली नौका व्यवस्था को भी सुचारु रुप से चलाया जाएगा ताकि आसपास के लोगों को असुविधा ना हो।

পশ্চিম মেদিনীপুর জেলা প্রশাসন গতকাল কংসাবতী নদীর উপরের বীরেন্দ্রু সেতুর রক্ষানাবেক্ষনের বিজ্ঞপ্তিতে সেতু দিয়ে সমস্ত যানবাহন চলাচল নিষিদ্ধ করেন। কিন্তু মেদিনীপুর শহর সহ মেদিনীপুর মেডিকেল কলেজের উপর খড়গপুর সহ পূর্ব ও পশ্চিম মেদিনীপুর জেলার অনেকেই চিকিৎসার জন্য নির্ভরশীল। আমরা বামপন্থী-খড়গপুর পক্ষ থেকে আজ এম্বুলেন্সের পরিষেবা বিকল্প পথে অস্থায়ীভাবে চালুর জন্য আজ জেলাশাসক ও জেলা স্বাস্থ্য অধিকর্তার কাছে জরুরী ভিত্তিতে চিঠি দিয়ে আবেদন জানানো হয়।
২টি পরামর্শ জানানো হয়: ১)আমতলা ঘাটের কাছে বাঁশের সাঁকোতে।পাটাতন দিয়ে এম্বুলেন্সের যাতায়াত। ২)হাওড়া–মেদিনীপুর শাখায় রেল পরিষেবা রবিবার দিনো যাতে নিয়মিত থাকে তার জন্য রেল প্রশাসনের সঙ্গে আলোচনার জন্য আবেদন করা হয়।   আমরা বামপন্থীর পক্ষ থেকে শ্যামল ঘোষ জানান
চিঠি দেওয়ার পর জানা যায় আজ জেলা আধিকারিকদের এই বিষয় নিয়ে সভা হতে পারে। বীরেন্দ্র সেতু দিয়ে এম্বুলেন্সের যাতায়াতের অনুমতির দেওয়ায় জেলা প্রশাসকদের আমরা বামপন্থী-খড়গপুরের পক্ষ থেকে ধন্যবাদ জানাই।

Advertisement
Advertisement

For Sending News, Photos & Any Queries Contact Us by Mobile or Whatsapp - 9434243363 //  Email us - raghusahu0gmail.com